क्या है TRUE FRIENDSHIP-जिसमे वसूलियत नहीं होती

क्या आपने कभी सोचा है? what is true friendship??  मैं इसलिए आपसे पूछ रहा हूं क्यूंकि सभी का कोई न कोई दोस्त तो होता ही है| मैं क्या समझता हूँ वो मैं बताता हूँ | FRIENDSHIP एक ऐसी चीज़ है जिसमे वसूलियत नाम की चीज़ नहीं होती है| क्यूंकि मैंने यही देखा है|

कभी किसी के लिए कुछ चीज़ जताने के लिए नहीं की जाती है अगर आप किसी के लिए कुछ करते है बिना सोचे की वो हमारे लिए क्या करेगा तो आपको Salute है क्यूंकि आप एक सच्चे दोस्त है|  आपकी Emotion 100% सही है |

मैं अपने Zindagi में इतना Lucky रहा हूँ की मुझे ऐसे ही Dost मिले है| तभी मैं आपसे इतना कुछ कह पा रहा हूँ|

अपने FRIENDS को भी उतनी इज़्ज़त दे |

अगर आप किसी को ऐसा लगता है की अपने जीवन में ऐसा कोई है तो प्लीज उनकी इज़्ज़त करो, उनको को भी उतनी Respect दीजिये | मैं आपको इसलिए कह रहा हूँ क्यूंकि मैंने अपने टाइम में नहीं किया था और आज जब हम दोनों का स्कूल Complete हो गया है और हम दोनों अलग -अलग कॉलेज में है तो मुझे पछतावा होता है|  मैं उस वक़्त उसके लिए जो कर सकता था वो भी नहीं किया |

पर जितने भी दिन हम साथ में थे स्कूल में, वो मुझे उतना ही मानता था उसका First Priority हमेशा मैं ही रहता था, कभी भी मुझे Ignore नहीं किया और आज भी जब हम मिलते है तो मुझे लगता है अभी भी मैं उसका First Priority हूँ| कोई फर्क नहीं पड़ता है की सामने कौन खड़ा है|

और उसने आजतक कभी भी ये सब किसी के सामने नहीं जताया है ना ही मेरे पीठ पीछे | जिसके जीवन में ऐसा कोई दोस्त था होगा उनको ये बातें अच्छी तरह समझ में आ रही होगी |

पता है आज मैं उसको Call नहीं कर पाता, पता है क्यों? क्यूंकि मेरी औकाद नहीं | इसलिए मैं आपसे कहना चाहता हूँ की अगर आपको लगता है की आपके लाइफ में ऐसा कोई है तो Please आप उनके लिए जो भी कर सकते हो प्लीज करे |

वो कहते है न की जबतक कोई चीज़ आपसे दूर नहीं हो जाती आपको उनकी importance का अंदाजा नहीं होता | वही बात है BOSS | और अगर आपके जीवन में ऐसा कोई है तो आपको पता नहीं है आप कितने Lucky इंसान है क्यूंकि सभी को ऐसा दोस्त नहीं मिलता है और अगर मिलता न, तो कुछ लोग ये नहीं पूछ रहे होते की FRIENDSHIP कैसे की जाती है? आप विश्वास नहीं करोगे लोग अभी भी ये पूछते है |

पता है मैंने अभी तक कुछ कमाया हो या नहीं अपने Life में पर मैं ये कह सकता हूँ की मैंने दोस्त ज़रूर कमाय है|और आज भी मेरे वही लोग दोस्त है  School Time वाले |

चलिए मैं आपसे एक सवाल पूछता हूँ की FRIENDSHIP कैसे की जाती है? काफी लोग ये पूछते हैं

आप मुझे कमेंट कर के बताइये और मैं आपको अपना जवाब बताता हूँ, क्या FRIENDSHIP की जाती है या हो जाती है ? इस बारे में सोचिये गा ज़रूर |

मेरा तो मानना है की FRIENDSHIP हो जाती है की नहीं जाती | दोस्ती किसी का मुँह देख के नहीं होता और न ही ख़ास लोगो से होता है ये तो बस हो जाता है किसी के साथ भी |

मेरे सारे दोस्त कमीने ही थे | कितना भी बेकार, वेल्ला आदमी कम से कम अपना Board Exam Time तो पढ़ता है पर मेरे दोस्त Suspend हो रहे है| समझ रहे हो !!!

क्या मेरी कभी मेरे दोस्तों से साथ Ladai हुई ??

True Friendship

एक कहावत मैंने सुना था- वो चाय क्या जिसमे उबाल नहीं, और वो दोस्त क्या जिसमे बवाल नहीं | क्या घटिआ सा मैंने कहावत लिखा है| वैसे बात तो आप थोड़े-थोड़े समझ चुके है| जो मैं कहना चाहता हूँ |

देखो क्लास में कम से कम दो GROUP तो बन ही जाते है| एक जिसमे कमीने लोग होते है, जिसमे हम आते है| ऐसे GROUP की ना एक खासियत होती है अगर, इस CLASS से कोई कांड हुआ है तो, इन लोगों ने ही किया होगा, जबकि ऐसा होता नहीं है|और एक पढ़ाकू GROUP होता है और वो लोग इतना शरीफ होते नहीं है जितना बाकी लोगों को लगता है |

तो अपने GROUP में कम से कम 12-13 लोग थे और इनमे से MAXIMUM लोग 5-6 CLASS से साथ में थे | और अपना ये GROUP CLASS 10 में टुटा था | अगर आप धयान से देखोगे तो एक चीज़ आपको समझ आ रही होगी की ये 4-5 साल साथ में थे और इन्होंने कभी भी आपस में लड़ाई नहीं की |

फिर अचानक से ऐसा क्या हो गया ??

हमारी ये दोस्ती, ये GROUP टुटा था CLASS 10 में BOARD EXAM होने से कुछ महीना पहले | हम CLASS 10 के बाद तो वैसे भी हम सब अलग-अलग होने वाले थे, तो शायद भगवान ने ये चीज़ पहले ही कर दिया था |

मैं अगर बोल रहा हूँ की हमारी बीच में लड़ाई हुई थी इसका मतलब ये नहीं है की हमारे बीच में मार-पीट हुई थी | किसी ने भी किसी पे हाँथ नहीं उठाया था | ये जो भी हुआ था ये दो लड़को के बीच हुआ था और मैं इन दोनों में से कोई नहीं हूँ |

इस दो लोगों के वजह से अपना जो Group था दो हिस्सों में बट गया था और इसी वजह से  मेरा उस टाइम पे 4-5 लोगों से बात नहीं हो रहा था | इसका मतलब ये नहीं है की मेरा PERSONAL ISSUE था | कभी था ही नहीं, और उससे मेरा बात बंद हो चूका था जो मुझे बहुत मानता था | हमारी बातें किसी दूसरे की वजह से नहीं हो पा रही थी और हाँ मैंने एक छोटी सी गलती तो की थी |

आप समझ नहीं पाओगे उस दिन मेरे अंदर क्या बीत रहा था | मैं नज़र नहीं मिला पा रहा था | मतलब मैंने उस इंसान के साथ ये की, जो मुझे बहुत – बहुत मानता था | कभी मुझे अकेला नहीं छोड़ा, कभी Ignore नहीं किया और बदले में मैं उसके लिए जो कर सकता था वो भी मैं नहीं किया | और उसके साथ एक Chutiappa तो किया ही |

बड़ा अजीब दिन था वो, मतलब इतना साल हमने साथ में बिताया था | मेरा क्या हमारे पुरे GROUP में ऐसा नहीं हुआ था |

पर इतनी साल की दोस्ती क्या ऐसे ही ख़तम हो जाती ?

कितने दिन आप बात नहीं करोगे, हमे रहना एक ही ROOM में है, MESS में एक ही TABLE में बैठ के खाना है लगभग सोना भी एक ही जगह है और CLASS तो SAME है ही | मुझे याद है शायद 2 या 3 दिन हमारी बातें नहीं हुई थी फिर तो धीरे-धीरे होने लगी थी |

पता है, इतना सब कुछ होने के बाद भी वो कभी नहीं बदला | आज भी वो वैसा ही है| आज भी वो मुझे उतना ही मानता है| मुझे नहीं पता क्यूँ ??

यहां से मैंने सीखा सच्ची दोस्ती, Friendship क्या होता है ? मैंने बताया था न वसूलियत नाम की चीज़ नहीं होती है|

MY SCHOOL HOSTEL LIFE – वो दिन भी क्या दिन थे

ये जो GROUP हमारा टुटा था न लड़की के वजह से | ऐसा नहीं था की दो लड़के एक लड़की वाली कहानी थी | यहां कहानी थोड़ी सी अलग थी Boss |

पता है TRUE FRIENDSHIP का सबसे खूबसूरत चीज़ क्या है?

TRUE FRIENDSHIP का सबसे खूबसूरत चीज़ क्या है ?

आप जब भी उनके साथ होंगे आप हार मान ही नहीं सकते पता है क्यों, क्यूंकि  एक सच्चा दोस्त अपने के लिए तो सपने देखता ही है वो आपके लिए भी सपने देखता है|

मैं आपको कहना चाहता हूँ की अगर आपको FRIENDSHIP करनी पड़ रही है तो मत करिये, कोई फ़ायदा नहीं है|

मैंने कहीं सुना था की एक समय आपके लाइफ में ऐसा आता है की आप अपने माँ-पापा की नहीं सुनोगे पर अपने FRIENDS का सुनोगे तो दोस्त आपके पक्के होना चाहिये | आपको अपने दोस्त पे पूरा भरोसा होना चाहिये क्यूंकि मैं अपने दोस्तों पे 100% विश्वास करता हूँ |

पता है मैं किसी के साथ Hangout नहीं कर सकता | मैं हूँ थोड़ा Introvert. पर वो चीज़ कहते है न की आपको बहुत सारे लोगों की ज़रूरत नहीं है, बस 3 – 4 सच्चे लोग ही काफी है ज़िन्दगी जीने के लिए | मेरे साथ वही है|

मुझे लगता है अगर कल को ये मेरे साथ नहीं रहे, तो मैं तो अकेला ही रह जाऊंगा | क्यूंकि इन कमीनो के अलावा मेरा कोई दोस्त ही नहीं है| बने ही नहीं और बने इसलिए नहीं क्यूंकि ये काफी है दुनिया जितने के लिए | मुझे लगता है इनके बिना मेरी ज़िंदगी अधूरी है| 

आपने किसी Couple को तो बात करते देखा ही होगा कितनी घंटो तक वो बातें करते है मैं पहले सोचता था आखिर एक-एक,दो-दो घंटा क्या बात करते होंगे पर मै आपको बताना चाहता हूँ की अपना average कॉल duration one to one एक घंटे का है और max 2:30 घंटे का | हमेसा कोई नयी बात नहीं होती है वही पुरानी बातें जो कई बार हो चुकी है और हम बोर भी नहीं होते हैं| मैं आपका कॉल duration जानना चाहता हूँ प्लीज comment कर के बताइये |

बातें करने को तो बहुत कुछ है पर हर कुछ काजग के पंनो में तो नहीं लिखा जा सकता ना |भगवान करें ये दोस्ती को किसी की नज़र न लगे और आपकी भी दोस्ती भी सही सलामत रखे | 

अगर आप ये सब पढ़ के समझ पा रहे मतलब एक एक Situation और Emotion दोनों को Feel कर पा रहे हो तब आपको सच्ची दोस्ती समझ आएगी |

हम इसी दोस्ती की सम्मान में हम FRIENDSHIP DAY Celebrate करते है जो की इस साल(2021) में 1 August को है|

Spread the love
  • 4
    Shares
  • 4
    Shares

Leave a Comment