Section 24 of Income Tax Act in Hindi-housing loan interest deduction

Section 24 of Income Tax Act, इस Section के वजह से ही आपको अपने House Property से जो Income हो रही है उसमे deduction मिल पाता है| और साथ ही घर बनवाने के लिए या घर खरीदने के लिए अगर आप Bank से Loan लेते हो, तो उसमे भी Tax deduction मिलता है|

Income Tax Act Section 24 Deductions

House Property में आपको 2 चीज़ो में Deduction मिलता है|

1. Standard deduction u/s 24(a)

ये 30% होता है| मतलब की आपको जो अपने House Property से जो Income हो रही है Annually, उसका 30% पैसो में Tax नहीं लगेगा | बाकी का 70% में Tax लगेगा | 30% पैसो में आपको Tax deduction मिल जाता है|

2. Interest on Loan u/s 24(b)

घर के Construction के लिए या घर खरीदने के लिए आपने जो Loan लिया है| उसपे लगने वाले Interest में आपको deduction मिल जाता है|

इसमें दो चीज़ आता है :-

  • Interest for Pre-Acquisition Period
  • Current Year Interest.

Pre Acquisition Period का मतलब होता है,

जिस दिन आपने Loan लिया तब से लेकर Loan repay करने तक या जिस साल Construction Complete हो जाए उससे पहले वाले financial Year की Last date. जो की 31 March होती है| इन दोनों में से जो पहले होगा उसे हम Pre Acquisition Period Count करने के लिए Consider करेंगे |

एक Example लेते है :-

मान लेते है मैंने Loan 1-07-2019 को लिया | और मेरा Construction 10-10-2023 में Complete हुआ | और मैंने Loan 5-10-2025 को Repay किया |

तो जिस साल हमारा Construction Complete होता है उससे पहले वाली Financial Year की Last date को हम Consider करते है| तो हमारा Construction Complete हुआ है 10-10-2023 को | तो हमारे लिए Previous Financial Year की last Date होगी 31-03-2023.

तो Loan हमने Repay किया है 5-10-2025 को और Previous Financial Year की last Date है 31-03-2023. तो इन दोनो में से जो पहले आएगा उसे हम Consider करेंगे Pre Acquisition Period Calculate करने में | और हमारे Case में “31-03-2023” पहले आएगा |

तो जिस दिन हमने Loan लिया था तब से 31-03-2023 तक हमारा Pre Acquisition Period होगा |

Interest Calculate करते कैसे है ?

मान लेते है हमने 10 लाख का Loan लिया | 10% per annum के Interest में | तो हमारा एक साल का Interest हुआ 1 लाख |

हमने Loan लिया था 1-07-2019 को | और हमारा Pre Acquisition/Construction Period है 31-03-2023 तक | Pre Acquisition Period के बाद हमारा Current Year Interest चालू हो जाता है|

Interest का दो  Component होता है :-

  • Pre Acquisition Interest
  • Current Year Interest

Pre – ACQUISITION INTEREST

Formula for Calculation of Pre Acquisition Interest = Loan x Interest Rate x Acquisition Period /12

मैंने Loan 10 लाख का लिया है|

Interest Rate = 10% per annum.

Acquisition Period = 44 Months [1-07-2019 से 31-03-2023].

Pre Acquisition Interest = 10,00,000 X 10% X 44 / 12

= 3,66,666.7

CURRENT YEAR INTEREST

ये तो Simple है|

Current Year Interest Formula = Loan x Interest rate

= 10,00,000 x 10/100

= 1,00,000.

Pre Interest जो आप Calculate कर रहे हो, सरकार बोलती है हम आपको एक ही बार में नहीं देंगे | हम आपको 5 equal Installment में देंगे | और क्यूंकि मेरा Interest 3,66,666.7 है तो सरकार मेरे को अगले 5 साल तक, हर साल 73,333.34 रूपए देगी |

तो ये  73,333.34 कब से दो गे ??

सरकार बोलती है हम आपको Post Period में देंगे |

Post Period कब चालू होगा ?

जिस दिन आपका Pre का Period ख़त्म हो जाएगा | उसके Next day से Post Period चालू हो जाएगा |

तो पहला साल हमे Current Year के 1,00,000 + 73,333.34 Pre Acquisition के, तो Total = 1,73,333.34 रूपए मिलेंगे | और Pre Acquisition के बाकी के पैसे आपको अगले 4 सालों में मिल जायेंगे |

हमारा Post Period, Construction Complete होने के बाद चालू हो जाता है|

Conditions to Claim Maximum Deduction

For Self Occupied House

  • आपने जो Loan लिया है वो house Repair के लिए नहीं होना चाहिए |
  • Loan आपने 1 April 1999 के बाद लिया हो |
  • Loan का Utilize अगले 5 सालों में हो जाना चाहिए |

अगर ये तीनो Conditions Fulfill होती है, तो आपको Maximum 2,00,000 तक का deduction मिल जायेगा | अगर आप एक Self Occupied घर में रहते हो | मतलब की आपने घर को Rent पर नहीं दे रखा है|

अगर इन तीनो Conditions में एक भी चीज़ रह जाती है तो Maximum आपको 30,000 तक का ही deduction मिल पाएगा |

For Let Out House / Rental

अगर आप अपने घर में खुद ही नहीं रहते | आपने Rental लगा दिया हो | तो पूरा का पूरा Interest deductible होगा |

Important Points :-

  • Current House Loan को चुकाने के लिए अगर आप एक और Loan लेते हो तो इसमें जो Interest लगेगा | वो deductible हो जाएगा |
  • अगर आपने Interest की Payment नहीं की और अगर Interest पे और Interest लग जाए, तो वह deductible नहीं होगा |
  • Loan लेने के लिए अगर कोई Commission या Brokerage लग रहा हो, तो वह भी deductible नहीं होगा |
  • अगर आप Loan India के बहार से लेते हो, तो Interest deductible नहीं होगा |

Income Tax Act Section 80EE

  • इसके तहत भी आपको Home Loan में deduction मिल पाता है|

कौन कौन ये Claim कर सकता है ?

हर एक Person जो हर साल अपनी Income Tax return File करता है| जिसे हम Assessee भी कहते है| वो इसके लिए Claim कर सकता है|

Claim करने की Condition :-

  • Loan आपने Bank से या Financial Institution से ले रखा हो |
  • एक Individual Person ही ये Claim कर सकता है|
  • HUF नहीं कर सकती |
  • आपकी घर की Value 50 लाख या 50 लाख से कम होनी चाहिए |
  • अगर आपने Loan 1-04-2016 से 31-03-2017 के बीच में ले रखा है तभी आप इसका फ़ायदा उठा पाओगे |
  • Loan आपको 35 लाख से ज़्यादा का नहीं मिल सकता |
  • Loan लेने के समय आपके पास कोई अपना घर नहीं होना चाहिए |

Maximum Amount of deduction

  • आपको Max. 50,000 per annum तक का ही Deduction मिल पायेगा |
  • आप Section 24 और Section 80EE दोनों मिला के 2,50,000 तक का Claim कर सकते हो |

Section 80 EEA.

कौन ये deduction Claim कर सकता है ?

  • एक Individual ही अपना deduction Claim कर सकता है|

Condition for deduction

  • Loan आपने Bank या financial Institution या Housing Finance Institution से ले रखी हो |
  • आपकी House की Stamp Duty Value 45 लाख से ज़्यादा का नहीं होना चाहिए |
  • आपके नाम पर पहले से कोई दूसरा घर नहीं होना चाहिए, Loan लेते वक़्त |
  • आपकी Loan 1-04-2019 से 31-03-2020 के बीच में ही Sanction होना चाहिए |

Maximum Amount of deduction

  • 1,50,000 तक का Maximum deduction claim कर सकते हो | Sec 24(b) के बिना |
  • एक से ज़्यादा Deduction Claim कर सकते हो |

Some Post Related to This Article :-

Income Tax Act Section 10 – इन पैसो में सरकार भी Tax नहीं मांगती | 

Spread the love

4 thoughts on “Section 24 of Income Tax Act in Hindi-housing loan interest deduction”

Leave a Comment