Section 115BAA of Income Tax Act- Company Tax Rate

Section 115BAA of Income Tax Act आपको एक Option provide करता है, जिसे की आपकी Tax reduce हो जाती है| अगर आप इस Option को select करते हो तो आपको 25.168% (22% tax + 10% Surcharge + 4% CESS) ही Tax लगेगा | और generally ऐसे आपको 30 से 32% tax देने पढ़ते है|

Section 115BBA of Income Tax Rate

Section 115BBA Eligibility/ Features :-

  • ये सिर्फ Domestic Company के लिए ही है|
  • कोई भी किसी भी तरह की Domestic Company के लिए applicable है|
  • Individuals के लिए नहीं है|
  • इसमें Section में कोई Turnover Criteria नहीं है|
  • Surcharge का % fix है 10%.
  • अगर आपने एक बार ये वाला Option ले लिया तो Change नहीं कर सकते |

Conditions :-

इस section को Claim करने के लिए कुछ Condition है| अगर आप इन सारी Condition को fulfill करते हो तभी आप section 115baa का benefits ले सकते हो |

इस Section का अगर आप benefits लेने चाहते हो तो आपको दूसरे मिलने वाले benefits/ Allowances/ Exemptions/ Incentives नहीं मिलेंगे | जैसे की :-

  • Section 10AA के तहत जो आपको benefits मिलता था, नहीं मिलेगा |
  • Additional depreciation भी ख़तम |
  • Section 32AD के तहत Investment में जो आपको Allowances मिलते थे अब वो नहीं मिलेंगे |
  • Section 33AB का भी benefit नहीं ले पाओगे |
  • Section 33ABA के according जो आपको site restoration का benefit मिलता था, इसको लेने के बाद नहीं मिलेगा |
  • Research and Development पर Section 35 के तहत जो benefit थी वो भी नहीं मिलेगा |
  • Section 35CCC, CCD के तहत जो benefits लेते थे, सब गया |
  • Chapter VIA में जो deductions आप Claim कर पाते थे, जैसे की Section 80IA, IAB, IAC, IBC. अब वो भी नहीं कर सकते |
  • इसमें एक Exception ये है की Section 80JJAA, 80LA और 80M के benefits अभी भी ले पाओगे |
  • उप्पर हमने जितने भी Sections देखे, इनसे related कोई भी Carry forward losses या depreciation का benefit भी नहीं मिलेगा |
  • अगर आप Section 115baa Option लेते हो तो MAT(Minimum alternate Tax) Provisions applicable नहीं होगा |
  • और अगर आप इस Section 115BAA का benefit लेना चाहते हो तो आपको From 10IC fill करना है| जो की आप Online भी कर सकते हो |

Income Tax Act Section 115BAB

Income Tax Section 115BAB कहता है की अगर कोई domestic manufacturing Company है, जो 1/10/2019 को या उसके बाद registered हुआ हो और उसका manufacturing business Commence हो जाना चाहिए 31/03/2023 तक | तो ऐसे Company को सिर्फ 15% का Tax Rate लगेगा | इसमें भी 10% का Surcharge जो की fix है और 4% का CESS लगेगा | तो total 17.16% से Tax लगेगा |

इसके भी कुछ Conditions है|

Conditions :-

  • इसमें भी वही same Condition applicable जो की हमे Section 115baa के Case में देखा | इसके अलावा
  • Company manufacturing business में होना चाहिए |
  • Machinery new होना चाहिए | आप सिर्फ 20% ही second hand machinery use कर सकते हो |
  • अगर कोई Second hand Machinery आप Foreign Country से Import कराते हो तो चलेगा |
  • Business new होना चाहिए | कोई पुराना Business को reconstruct करने से नहीं चलेगा |
  • ऐसी business जो 33AB में दी गयी है| वैसा Business अगर किसी भी Natural disaster या fire Explosion की वजह से बर्बाद हो जाता है और 3 साल के अंदर उस business फिर से खड़ा कर देते हो, तो उसे reconstruct नहीं समझेंगे |
  • पहली ITR से पहले आपको ये Option Opt करना होगा |
  • आप जो building use करोगे वो पहले से कोई restaurant या कोई Centre नहीं होना चाहिए |
  • अगर Company manufacturing के साथ साथ Research या Distribution में भी है तो भी चलेगा |
  • इसमें भी आपको MAT नहीं लगेगा |
  • AO(Assessing Officer) के पास ये Power है की वो किसी भी Company का Profit Calculate कर सकता है| अगर आपकी बताई हुई Profit से ज़्यादा निकली तो उसमे 34.32% (30% tax + 10% Surcharge + 4% CESS) का Tax लग जाएगा |

ये सारे Business को Manufacturing Company नहीं मानी जाएगी :-

  • Computer Software development Company.
  • Mining.
  • Conversion of Marbles और Tiles from Big Rocks.
  • Bottling of Gas into Cylinder.
  • Printing of Books और Film Production.
  • Government अलग से कोई Business को Notify करती है तो वो |

अधिक जानकारी के लिए आप Institute of Chartered Accountants of India की Website Visit कर सकते होClick Here


Some Post Related to This Article :- 

>> Income Tax Act Section 10 – ये Income में सरकार भी Tax नहीं मांगती | 

>> Income Tax Act Section 24 – Home Loan बिना Interest के | 

>> Section 54 of Income Tax Act – Capital Gains पर कोई Tax नहीं देना होगा | 

>> Income Tax Act Section 80D – Health Insurance में पाओ Tax Deduction. 

>> Section 80C of Income Tax Act – 1.5 लाख तक का Investment में कोई Tax नहीं | 

>> Income Tax Act Section 44AD – Presumptive taxation

>> Section 56 of Income Tax Act- Gift Tax in India

>> Section 44AB of Income Tax Act – Tax Audit

>> Section 194j of Income Tax – TDS

>> Section 87a of income tax act- 12500 तक का Tax Rebate.

>> Section 80DDB of Income Tax Act- 1,00,000 तक का maximum Deduction 

>> Seventh proviso to section 139(1) Income Tax Act

>> Section 269SS, 269T, 269ST of Income Tax Act.

Spread the love
  • 2
    Shares
  • 2
    Shares

Leave a Comment