Money Laundering meaning in Hindi | काला सच

आज हम जानेंगे Money Laundering का काला सच | कैसे Money Laundering से Black Money को White Money में Change किया जाता है ? क्यों सारे लोग पैसा ले के London भाग जाते है ? FATF क्या होता है ? सब कुछ जानेंगे एक दम Detail में |

Money Laundering क्या है ? | What is Money Laundering ?

Money Laundering एक Illegal Process है, जिसका use कर के आप Black Money को White money में Convert कर लेते हो |

Black Money और White Money क्या होता है ?

एक दम आसान भाषा में बोले तो, जिस पैसे पे आप सरकार को Tax देते हो वो White Money है और जिस पैसे पे आप सरकार को Tax नहीं देते वो Black Money है|

Black Money का ये मतलब नहीं होता है की वो पैसे जो मैंने गलत कामो से कमाए है| अगर आपने सही तरीके से भी कमाए है पर उसमे Tax नहीं भरा है तो वो भी Black Money है|

Money Laundering में क्या होता है?

आपके पास बहुत सारा Black Money है| पर आप खुल के खर्च नहीं कर पाते हो | आप Black Money से कोई भी बड़ी Investment करने से पहले हज़ार बार सोचते हो | क्यूंकि अगर Income Tax Department की नज़र आपमें पड़ गयी तो आपको Jail हो सकती है| और आपकी जितनी भी संपती होगी वो सारी Seize हो जाएगी |

तो यहां पर आता है Money Laundering का Concept .

Black Money कैसे White Money में बदलता है ?

Market में गलत काम करने वालों की कमी वैसे भी नहीं है| अब ये आदमी वैसे आदमी को ढूंढेगा जो इसकी Black money को White Money में Covert कराएगा | Market में ऐसे लोग है भी |

Black Money को White Money में Change करने के लिए दो सबसे popular method है|

  • Placement

इसमें होता ये है की बड़े शहर में, बड़े बड़े Malls में सिर्फ सरकार को दिखाने के लिए कुछ Business खोले जाते है | और उस Company का नाम register करवा दिया जाता है| और ये वैसा business होता है, जिसका business Cash में होता है|

जैसे की – Shalon. इसमें Maximum लोग Cash में Payment करते है| तो वैसा ही Business खोला जाता है जिसमे maximum Payment Cash होती है |

सिर्फ नाम के लिए, सरकार को दिखाने के लिए ये Business की Shop खोले जाते है| इनमे कोई काम नहीं होता है| शायद आपने भी ऐसा कोई Shop देखा हो |

अब ये आदमी जिसके पास बहुत सारा Black Money है, वो अपना Black Money निकालेगा और सरकार को बताएगा की ये 50 लाख मैंने अपने Business से कमाए है| और क्यूंकि Barber की Shop थी जिसमे maximum Payment Cash में हुई है तो सरकार के पास record ही नहीं है की किसने किसने Payment किया है| तो सरकार कुछ कर भी नहीं पाती है|

और time to time लोग अपनी Business बढ़ाते जाते है| Income भी हर साल सरकार को ज़्यादा दिखाते है और आसानी से Black Money, White Money में Convert हो जाते है|

इस method में काम तो बन जाता है पर Risk है| Risk ये है की अगर आप गलती से एक भी पकड़े गए तो आपकी पूरी संपति Seize हो जाएगी | आपके पास 1 रुपया भी नहीं बचेगा | इससे बचने के लिए लोग दूसरी Option अपनाते है :-

  • Hawala Bazaar / Layering / Integration

आपको पता होगा ऐसी बहुत सारी Country है जो दूसरे Country के साथ अपना Information Share नहीं करती है|

जैसे की अगर हमारी Government Switzerland से बोलेगी ज़रा बताओ तो कितने Indians की Bank Account तम्हारे देश में है | तो वो नहीं बताएंगे | ये उनके Rule है| Switzerland के अलावा और भी बहुत सारे देश है|

वैसे ही जो भी लोग Money Laundering में Involve है, जो Agent आपको help कर कर रहा है| वो पहले ऐसा देश ढूंढेगा जो कोई भी Information दूसरे देश के साथ Share नहीं करता हो |

Placement के through आपके Black Money तो White होने शुरू हो गए थे | अब वो Agent आपके पैसे को उस Country में Transfer कर देगा जो Information Share नहीं करती है|

हम इस Transfer को Investment, Loan या कोई भी Commercial Transaction का नाम दे के आसानी से अपने पैसो को दूसरे Country में Transfer कर सकते है|

तो होता ये है की पहले हम अपने पैसो को किसी दूसरे Country के फालतू Company के Account में पैसा दाल देते है | वो पैसा कुछ दिनों तक अलग अलग Account में Transfer किये जाते है| और कुछ दिनों के बाद वापस India में किसी दूसरे Account में वो पैसा भेज दिया जाता है या receive कर लिया जाता है| जिसे Integration भी कहते है|

और Government को पता ही नहीं चल पाता है की ये पैसे actual में है किसके ? क्यूंकि वो Country आपकी Information Share ही नहीं करती है| Government को बस ये पता होता है की किस Company को बाहर से पैसे आये है as a Investment या Loan, इसके अलावा कुछ भी नहीं |

ऐसा करने से फ़ायदा ये होता है की अगर कल को आपको Jail भी हो गयी, तो भी आपके पास अपना खुद का पैसा होगा | Police Seize ही नहीं कर पाएगी |

Hawala Bazar

Hawala bazaar के Case में भी ऐसा ही होता है|

हम 10 करोड़ या जितना भी पैसा Cash ले जा के Hawala वाला agent को दे देते है| उसके अपने बहुत सारे network होते है| अलग अलग Account से,अलग अलग देश में पैसा Transfer होने के बाद उसे Track करना ही बहुत मुश्किल है| जिसे हमलोग Layering कहते है|

देखो जब तक पैसा Account से Account transfer हो रहे है तब तक उस पैसो को Track किया जा सकता है| अगर आपने Bank से इन पैसो को निकाल लिया तो उसके बाद इन पैसो का record ही नहीं है| सरकार को पता ही नहीं चलेगा की पैसे कहाँ गए, कहाँ Transfer हुए |

और Last में जहाँ हमे पैसा भेजना वहां के किसी फ़र्ज़ी Cell Company के account में पैसा Transfer कर दो Loan या Investment के नाम पर | और आपकी Black Money, White हो गयी | आपने कोई Tax ही नहीं दिया सरकार को, क्यूंकि FDI (Foreign Direct Investment) में कोई भी Tax नहीं लगता है|

Money Laundering Act

Money Laundering लोगों की नज़र में तब आया जब इससे Terror Funding होने लगा | तब इस्पे भी कानून बने | India और पूरे देश ने मिलकर कानून बनाया :-

  • PMLA (Prevention of Money Laundering) :- ये 2002 में आया था | अगर आप Money Laundering में पकड़े जाते हो तो आपको 3 साल की Jail हो सकती है| ये भारत का कानून है|

पर अगर Switzerland जैसे देशो से पैसा आएगा तो Money Laundering का तो पता ही नहीं चलेगा | तो इसलिए 1989 में FATF को लाया गया |

  • FATF(Financial Action Task Force) :- ये पूरी दुनिया में नज़र रखता है| सबसे ज़्यादा Funding किस देश को हो रही है|

अगर कोई पकड़ा तो उसे FATF Warning भेज देता है| और उसे Gray list में दाल देता है जैसे की अभी Pakistan है| और अगर वो देश फिर भी नहीं माना तो उसे Black List कर दिया जाएगा | और Black List होने के बाद उस देश को बाहर से कोई Loan नहीं मिल सकता और बाकी Country को उसके साथ कोई Business नहीं करना है|

सारे लोग चोरी कर के London क्यों भाग जाते है?

आपको पता होगा की Vijay माल्या या Nirav Modi दोनों पैसे ले के London भाग गए थे | London ही क्यों ?

Britain की एक Rule है की अगर कोई भी हमारे यहां आ जाता है तो हमारे लिए एक मेहमान है| और उसके साथ कोई भी ज़ोर ज़बरजस्ती नहीं कर सकता | ये उसका हक़ है|


Some Post related to this Article :-

>> Income Tax Act Section 10 – ये Income में सरकार भी Tax नहीं मांगती | 

>> Income Tax Act Section 24 – Home Loan बिना Interest के | 

>> Section 54 of Income Tax Act – Capital Gains पर कोई Tax नहीं देना होगा | 

>> Income Tax Act Section 80D – Health Insurance में पाओ Tax Deduction. 

>> Section 80C of Income Tax Act – 1.5 लाख तक का Investment में कोई Tax नहीं | 

>> Income Tax Act Section 44AD – Presumptive taxation

>> Section 56 of Income Tax Act- Gift Tax in India

>> Section 44AB of Income Tax Act – Tax Audit

>> Section 194j of Income Tax – TDS

>> Section 87a of income tax act- 12500 तक का Tax Rebate.

>> Section 80DDB of Income Tax Act- 1,00,000 तक का maximum Deduction 

>> Seventh proviso to section 139(1) Income Tax Act

>> Section 269SS, 269T, 269ST of Income Tax Act.

Spread the love
  • 3
    Shares
  • 3
    Shares

1 thought on “Money Laundering meaning in Hindi | काला सच”

Leave a Comment