Deduction Under Income Tax Act Section 80C in Hindi

आपको तो पता है, हमारे Income Tax Act 1961 के तहत अगर आपकी Annual Income 2,50,000 से ज्यादा है तो वह Taxable होगा | उसमे Tax कटेगा | तो 2,50,000 हो या उससे कम | इसमें Issue है ही नहीं | Tax कट ही नहीं रहा है|

दिक्कत तो तब है, जब आपकी Annual Income 2,50,000 से ज़्यादा है और उसमे Tax कट रहा हो | पर, आप अपना Tax बचाना चाहते हो |

आइये जानते है, Legal तरीके से कैसे  Tax बचा सकते हो ? यहां पर आता है Income Tax Act का Section 80C.

Income Tax Act of Section 80C.

Income Tax Act का Section 80C कहता है की आप एक साल में Maximum 1,50,000 तक का Investment कर सकते हो जिसमे हम Tax नहीं काटेंगे | Basically Section 80C आपको Investment में Tax benefit provide करता है| ‘

एक Individual या HUF इस Section का benefit ले सकता है|

Tax कैसे बचेंगे, जानते है|

मान लेते है आपकी Annual Income 5,00,000 है| और आपने अपना पैसा कहीं भी Invest नहीं कर रखा है| obvious सी बात है आपकी Income Tax कट रही होगी |

Income Tax Slab 2020-2021 के तहत आप 5% में आते हो | मतलब आपकी Income में 5% Tax लगेगी |

देखो 2,50,000 तक के पैसो में तो कोई Tax लगेंगे नहीं, क्यूंकि basic Exempt है| तो 5% tax बाकी के 2,50,000 में लगेंगे |

2,50,000 के 5% हुए 12,500 | तो सरकार को आप हर साल 12,500 का Tax दे रहे हो | और आपने अपने पैसो को कहीं भी Invest नहीं किया है|

Investment के बाद,

आपको 1,50,000 तक का Investment में कोई Tax नहीं लगता है Section 80C के तहत | और अब आपने 1,50,000 का Investment किया है|

आपके 5,00,000 की Income में 2,50,000 तो वैसे minus(-) हो गए | बचे 2,50,000, इस 2,50,000 में आपने 1,50,000 का तो Investment कर दिया | तो अब बचे है 1,00,000 रूपए |

तो अब आपकी 5% tax इस 1,00,000 में लगेगी |

1,00,000 की 5% होते है 5000 रूपए | अब आप सरकार को सिर्फ 5000 रूपए का Tax भरोगे |

Investment के बाद आप Total 7,500 रूपए बचा पा रहे हो |

अब आपके मन में ये Question आ रहा होगा की, हम कहाँ कहँ Investment कर सकते है ??

Investment Scheme Under Section 80C

  1. PPF (Public Provident Fund)
  2. EPF (Employ Provident Fund)
  3. NSC (National Saving Certificate)
  4. SSY (Sukanya Samriddhi Yojana)
  5. SCSS (Senior Citizen Saving Scheme)
  6. ELSS (Equity Linked Saving Scheme)
  7. NPS (National Pension Scheme)
  8. Life Insurance Premium.
  9. ULIPS (Unit Linked Insurance Plans)
  10. Children Tuition Fees.
  • जब आप अपने बच्चो की fees भरते हो, तो एक Fee Slip मिलता है आपको | जिसमे काफी अलग अलग चीज़ों के Charges लिखे हुए होते है| Bus Charge, Computer Charge, Games Charge, Tuition Fee….etc.
  • धयान रहे आपको सिर्फ Tuition fee के Amount में ही deduction मिलेगा | Total fees पर नहीं |
  • बच्चों की Maximum Limit दो है, अगर Mother और Father में से कोई एक ही Tax Payer है तो |
  • Mother और Father दोनों Tax Payer है तो Maximum 4 बच्चे |
  • Adopted बच्चो के लिए भी आप Claim कर सकते हो |

अगर आपने Home Loan ले रखा है, तो Principle Amount पर Section 80C Claim कर सकते हो | और Interest पर Section 24.

और भी कुछ कुछ है|

Investment Vs Fixed Deposit

Investment से लोग बहुत डरते है ??

कुछ लोगो के मन में ये सवाल ज़रूर होगा की, क्या Guarantee है की मेरे पैसे नहीं डूबेंगे ?

उप्पर मैंने जो भी Investment का Option आपको दिया है| एक बार आप खुद उनके बारे में Research कर लो | और उनकी Average Return % देख लो |

Fixed deposit करने पर आपको जो Rate मिल रही है, उससे हमेशा ज़्यादा होगा | उससे कम तो बिलकुल भी नहीं होगा | Guarantee.


Some Post Related to This Article :-

>>Income Tax Act Section 10 – सरकार आपसे आपकी Income में कोई Tax नहीं लेगी | 

>> Income Tax Act Section 24 – Home Loan पर अब कोई Interest नहीं देना होगा | 

>> Income Tax Act Section 54 – Tax Exemption on Capital Gains.

>> Income Tax Act Section 80D – पाओ Health Insurance में Tax Benefit. 

>> Section 87a of income tax act- 12500 तक का Tax Rebate.

Spread the love

Leave a Comment