(HUF)Hindu Undivided Family Meaning in Hindi

(HUF)Hindu Undivided Family जिसे हम Hindu Joint Family या Undivided Family के नाम से जानते है| HUF को हम ऐसे समझ सकते है की ऐसी Family जिनके बीच में Property का बँटवारा न हुआ हो, एक Joint Family | कोई Rocket Science नहीं है बहुत Simple सी चीज़ है|

तो फिर (HUF)Hindu Undivided Family एक अलग Term क्यों आया ? 

HUF Benefits in Tax Saving

  • Hindu Undivided Family को Income Tax Act के according Tax benefit मिलता है|
  • Income Tax Act के Section 2(31) में HUF को एक अलग Identity दिया गया है|

जैसे की इस दुनिया में सभी Individuals की एक अलग Identity है, वैसे ही जब आप अपनी family को HUF बनाओगे तो आपकी पूरी Family का एक अलग Identity बनेगा | और आपकी पूरी family का एक अलग अलग PAN बनेगा | इसको अपना Individual PAN न समझे |

  • HUF को भी वो सारे Tax Exempt मिलते है जो एक Individual को मिलते है| जैसे की Section 80D, 80C.
  • HUF अपने किसी member का Insurance भी भर सकता है|
  • जो Tax Slab एक Individual को applicable होंगे वही HUF को भी |
  • HUF अपनी Family को Salary भी दे सकता है|
  • HUF की अपनी Property हो सकती है, अपना Business हो सकता है|
  • HUF invest भी कर सकता है|
  • Investment के बाद आपको जो return मिलेगा वो Taxable होगा | Tax rate same होंगे जो की एक Individual के लिए होंगे |

फ़िलहाल आप ये जानने में ज़्यादा Interested होंगे की,

HUF बनते कैसे है?

क्यूंकि नाम में ही Hindu है, तो सिर्फ Hindu family ही अपनी HUF family बना सकती है| Hindu में सिर्फ Jains, Sikhs और Buddhists ही Added है|

Parsis, Muslims और Christians नहीं बना सकते |

जानिए –  कैसे India में कोई भी लाखो Tax बचा सकता है| सभी Apply कर सकते है|

HUF का हिस्सा बनने के लिए ज़रूरी है, आपकी शादी हो गयी हो और जब आपका एक बच्चा हो जाए | आप Eligible हो HUF का हिस्सा बनने के लिए |

HUF बनने के लिए कोई Contract नहीं चाहिए | ये Hindu family में automatically apply हो जाता है|

“अगर आप Hindu से कोई और धर्म में जाते हो जैसे की Muslim, Christians तो आपका HUF Account बंद हो जाएगा | या उस member को हटाना होगा |”

HUF में कितने Parties होती है|

जब आप अपनी Family की HUF बनाओगे, तो आपके family members को 3 parties में divide किया जाता है|

  • Karta
  • Coparceners
  • Members

आइये इनके बारे में जानते है, ये क्या होते है :-

KARTA

  • जो family का Head होता है उसे हम Karta कहते है|
  • HUF की सारी decisions Karta ही लेता है|
  • Karta को decisions लेने के लिए किसी से पूछने की ज़रूरत नहीं है|
  • किसी Junior member को भी Karta बना सकते हो, अगर पूरे Coparceners agree होते है तो |

COPARCENERS

  • HUF family में जो बच्चे है वो Coparceners है| लड़का और लड़की दोनों |
  • किसी भी HUF Property में लड़का और लड़की दोनों का Equal Rights रहेगा |
  • शादी के बाद भी लड़की अपनी family में Coparceners रहेगी |

MEMBERS

  • Daughter in Law, Son in Law ये members है HUF के |
  • मतलब अगर एक Daughter है तो वह अपने Papa की side से Coparceners है| पर, जब वो शादी करके किसी दूसरे के घर जाएगी तो वहां वो Member होगी |
  • एक Person दोनों हो सकता है|
  • Members को HUF Property में कोई हक़ नहीं मिलता है|
  • Members को सिर्फ Maintenance मिलेगा | जैसे की – Food, Cloth, Marriage, Medical Expenses.

Members और Coparceners में फर्क |

  • अगर Coparceners चाहे तो on demand HUF का Partition कर सकते हो | पर members ये नहीं कर सकते |
  • अगर आप Hindu से कोई और धर्म में जाते हो जैसे की Muslim, Christians तो आपका HUF Account बंद हो जाएगा | या उस member को हटाना होगा |
  • Karta अपनी Salary ले सकता है HUF से |
  • एक HUF दूसरे HUF को भी Hold कर सकता है|

HUF में Tax Benefit कैसे मिलता है ?

एक Example से समझते है :-

एक Family है जिसमे 5 लोग है, Grandfather, Husband, Wife और इनके 2 बच्चे | Husband जो है वो Salaried Person है इनकी Annual Income 20,00000 (20 लाख) है|

Grandfather की House Rental की business है| Annually वो 10 लाख रूपए कमाते है|

तो Husband और Grandfather, दोनों को अपनी अपनी Income में 2,50,000 तक की छूट मिल रही थी | मतलब Total घर से 25,00,000 में Tax कट रहा था |

एक दिन Grandfather की Death हो जाती है| तो इसकी House Rental Property इनके बेटे को मिल जाता है|

HUF बनने से पहले Tax Calculations

Income from various Sources Income of Family before being HUF
Salary 20 Lakh
House rent Business 10 lakh
30% की House Rental deduction 3 lakh (30% of 10 lakh)
House rent Taxable income 7 lakh (10 lakh-3lakh)
Total Taxable income 27 lakh (20 lakh+ 7 lakh)
Tax Saving Investment 1.5 lakh
Tax Slab benefit 2.5 lakh
Net Taxable Income 23 lakh (27 lakh – 1.5 lakh – 2.5 lakh)

Husband Salary = 20,00,000.

House Rental business = 10 Lakh.

10 लाख में 30% की House Rental deduction मिलेगी | 10 लाख की 30% हुए 3,00,000. 3 लाख का deduction के बाद बचा 7 लाख रूपए |

total Taxable Income हुआ 27,00,000.

 आपको पता होगा 1,50,000 तक का Investment बिलकुल Tax free है| तो हम मान लेते है हमने अपने 1,50,000 Insurance, EPF या  PPF में Invest कर रखा है| और हमे 2,50,000 तक की basic exemptतो मिलती ही है|

तो Net Taxable Income हुए 23,00,000 (27,00,000-2,50,000-1,50,000) रूपए | तो 23,00,000 में Tax काटेंगे | 

HUF का हिस्सा बनने के बाद

Income from various Sources Income of HUF.
Salary 20 Lakh
House Rent Business 10 Lakh
30% की House Rental deduction 3 lakh (30% of 10 lakh)
House rent Taxable income 7 lakh (10 lakh-3lakh)
Total Taxable income 20 Lakh 7 lakh
Tax Saving Investment 1.5 Lakh 1.5 lakh
Tax Slab benefit 2.5 lakh 2.5 lakh
Net Taxable Income 16 lakh 3 lakh

Husband अपने Father की Property को अपने नाम न करके HUF के नाम Transfer कर देता है|

House Rent से HUF को 10 लाख रूपए आ रहे है| 10 लाख में 30% की House Rental deduction मिलेगी | 10 लाख की 30% हुए 3,00,000.

3 लाख का deduction के बाद बचा 7 लाख रूपए | आपको पता होगा 1,50,000 तक का Investment में बिलकुल Tax free है|

तो 1,50,000 के deduction के बाद बचा 5,50,000 रूपए | और हमे 2,50,000 तक में basic Exempt तो मिलती ही है| |

तो Again 5,50,000 – 2,50,000 = 3,00,000 रूपए | तो HUF के Net Taxable Income हुए 3,00,000 | 

और Husband को भी उसकी 20 लाख की Annual Salary में 2,50,000 तक की छूट मिलेगी |और इसने भी अपने 1,50,000 रूपए Invest कर रखे है| तो Husband 16,00,000 (20,00,000-2,50,000-1,50,000)  में Tax Pay करेगा |

तो HUF का हिस्सा बनने के बाद,

Net Taxable Income हुए 19,00,000 (16,00,000+3,00,000) | 

जब आप HUF का हिस्सा नहीं थे तो 23,00,000 में Tax भर रहे थे | और HUF बनने के बाद सिर्फ 19,00,000 में Tax भरोगे | 4,00,000 पैसे आपके बच जा रहे है|

HUF कैसे बनाए ? HUF Account opening Process

step-1 :- आपको Deed बनानी होगी |

  • Deed बनाना ज़रूरी नहीं है| पर सही रहता है|
  • Deed एक Formal document है जो की Stamp Paper पर होता है| जिसमे Karta, Coparceners, members के साथ HUF का नाम भी लिखा हुआ होता है|
  • HUF का नाम Karta के नाम पर होता है और last में HUF लग जाता है| Eg – Anil Kumar HUF.
  • सारे members को HUF चलाने के लिए Karta को declaration देना पड़ता है|

Step- 2 :- PAN के लिए apply करना |

  • यहां पर आपकी HUF family की किसी member की PAN की बात नहीं हो रही है| पूरी HUF की एक अलग PAN बनेगी | एक अलग PAN No. मिलेगा |
  • Form 49A में Karta HUF की तरफ से PAN के लिए apply कर सकता है|
  • PAN मिलने के बाद HUF को अलग से Tax File करना होता है|

Step-3 :- Bank Account खोलना |

  • Account Karta या HUF के नाम पर हो सकता है एक declaration के साथ की ये Account HUF के लिए Use होगा |
  • Account को चलाने की Authority बस Karta के पास होती है| और अगर वो चाहे तो किसी और को भी Karta बना सकता है|

Step-4 :- HUF को fund कैसे करें ? Transfer assets to HUF.

1. Gifts

  • आप किसी और से Gift ले सकते हो अपने HUF में |
  • अगर आपकी HUF already चल रही है तो 50,000 से ज़्यादा का Gift न ले | इसके उप्पर Taxable हो जाती है|

अगर आपकी HUF नयी नई है तो 4 लाख तक की Gift ले सकते हो | क्यूंकि 2,50,000 तक तो basic Exemptionहै और 1.5 लाख तक का Investment भी Tax Free है|

  • अपने Relatives से Gift ले सकते हो अपने HUF में | और कोई limit नहीं है|
  • Members भी HUF को Gift दे सकती है| पर, Clubbing Provisions आ जाता है|

2. Ancestor Property

  • आप अपनी पूर्वज की Property को HUF में ला सकते हो |
  • और अगर Property से कोई Income होती है तो HUF की Income होगी |

3. Members से Loan ले के |

  • जब आप Loan लेते हो तो Clubbing Provisions का situation नहीं आता है| पर आपको reasonable interest के साथ Loan भी चुकाना होगा |

अगर Anil Kumar, Anil Kumar HUF को Loan दे रहा तो, Anil Kumar HUF को interest के साथ Anil Kumar को Loan repay करना होगा | क्यूंकि Income Tax के नज़र में Anil Kumar और Anil Kumar HUF दोनों अलग अलग है|

HUF का Partition कैसे करते है ?

सबसे पहले तो सिर्फ Coparceners ही Partition के लिए Demand कर सकते है|

Partition के दो Options है :-

  1. Partial Partition.
  2. Total Partition – Recognize by law.

Partial Partition

इसमें ऐसा होता है की पूरे HUF में सिर्फ कुछ लोगो को ही अलग होना है| तो ऐसे में हम उनको उनका हक़ दे के निकाल सकते है| कोई दिक्कत नहीं है|

Total Partition – Recognize by law.

  • इसमें आपकी सारी Assets equally आपके Coparceners और Karta में Distribute हो जाएगी |
  • और आपका ये HUF बंद हो जायेगा |
  • अगर Partition के Time में माँ Pregnant है तो उसके बच्चे को भी हक़ मिलेगा |
  • माँ और Wife दोनों को अपने अपने Share मिलेंगे |

Partition के लिए किसी CA की मदद ज़रूर ले |


Some Post Related to This Article :-

>> India में Tax कैसे बचाए ?? Tax Saving Investment. 

>> Seventh proviso to section 139(1) Income Tax Act

Spread the love
  • 6
    Shares
  • 6
    Shares