How to Save Tax in India | Tax Saving Investment in Hindi

India में Tax से लगभग सभी परेशान है| हर कोई Tax देने से बचना चाहता है| आखिर एक Salaried Person Tax Save करे तो करे कैसे ?? क्या Legally, आप India में Tax Save कर सकते हो ?? हाँ |

Warren Buffet जो दुनिया के 4th सबसे आमिर है| जिसकी Net-Worth करीब $80 billion की है| ये कहते है मेरे से ज़्यादा Tax मेरी Secretary देती है| ये कैसे Possible है??

मैं आपको बताना चाहता हूँ ” ये Legally Possible है|

आज हम वो 5 Legal तरीकों के बारे में जानेंगे | जिसकी  help से आप  India में Tax Save कर पाओगे |

Tax Save करने का सबसे Best Option है Investment का | हमारे देश का Income Tax Act 80C, ये बताता है आप कहाँ – कहाँ Invest करेंगे तो Tax benefit मिलेगा, Tax Save होगा | इसके लिए एक Word Use होता है “Deduction”.

आप जो पैसा Invest करोगे उसमे Deduction मिलेगा | आपको Tax नहीं देने होंगे |

Section 80C – इसमें ये बताया गया है की, अगर आप एक साल में इन Particular चीज़ में किसी में भी 1.5 lakh तक Invest करते हो | तो कोई भी Tax नहीं लगेगा |

ये Particular चीज़ क्या है ?

ये है वो 5 Tax Saving Investment Scheme. जिनमे आपको कोई Tax नहीं देना है|

EPF (Employee Provident Fund ) :-

ये Scheme सरकार द्वारा निकाला गया है| जिसमे Employee अपने Working Period में अपने Salary का कुछ % Contribute करता है और Employer भी उतना ही Amount Contribute करता है| और On Retirement आपको बहुत सारा benefit मिलता है|

इसमें आपको दो चीज़ देखने को मिलेगा Employees और Employers. इन दोनों में basic difference है की – Employees जिनको Salary मिलती है और Employers जो Salary देता है मतलब Organization या Company.

अगर आप Salaried Person है, चाहे आप Self Employed होकर Salary ले रहे हो | आप इसमें Apply कर सकते हो |

अगर आप एक Employee है और आप EPF के लिए Apply करते हो, तो आपके Salary का 12% EPF में चला जायेगा | और आपका Employer आपके behalf में भी 12% contribute करेगा |

EPF Benefits:-

अगर आप साल में 1.5 लाख तक EPF में Invest करते हो, तो कोई भी Tax नहीं लगेगा | और आपके Employer का 12% भी Tax Free है|

EPF में आपने जो पैसे रखा है उसमे आपको Interest भी मिलेगा | ये Interest का % Fix नहीं है| पर, 8 से 9% के बीच में तो होता ही है|

EPF में Risk कम है, क्यूंकि Government Scheme है|

Life Insurance भी मिल जाती है|

आप बाद में जब अपना पैसा Withdraw करोगे तब भी कोई Tax नहीं कटेगा |

EPF का पैसा कब निकाल सकते है?

इसमें 5 साल का Lock in Period है| अगर आप 5 साल के बाद अपना पैसा निकालते हो, तो कोई भी Tax नहीं कटेगा |

पर ऐसा भी नहीं है की आप 5 साल से पहले पैसा नहीं निकाल सकते | पर अगर आप 5 साल से पहले पैसा निकालते हो तो Tax कटेगा | Tax Benefit नहीं मिलेगा |

EPF का पूरा पैसा आपको सिर्फ Retirement पर ही मिलेगा | और Retirement की Age है 58 Years.

आप 57 की Age में 90% पैसे निकाल सकते हो | इससे पहले आपको कुछ ही पैसे मिल पाएंगे, Emergency के वक़्त | जैसे की – शादी कराना है, घर बनाना है………etc.

58 Years से पहले अगर आप 100% पैसे निकालना चाहते है, तो आपको 100% Resignation देना होगा और Unemployment हुए 2 महीने से ज़्यादा हो गए हो | तभी मिल पायेगा | पर अगर आप 5 साल से पहले करोगे तो Tax लगेगा |

क्या EPF Account Transfer होते है??

हाँ | अगर आप इस Company को छोड़ के किसी दूसरे Company में जाते है, तो आराम से EPF Account Transfer हो जाते है| आपको फिर से या पुराना Account तोड़ने की कोई ज़रूरत नहीं है|

EPF Mandatory किसके लिए है ??

अगर किसी Company में 20 या 20 से ज़्यादा लोग काम करते है| तो उस Company को EPFO (Employee Provident Fund Organisation) में Register करना ज़रूरी है|

15000 या 15000 से कम Salary लोगों के लिए EPF Account Mandatory है| 15000 के उप्पर आपमें depend करता है|

EPF Calculations

Provident Fund(PF) तीन Scheme से बना है :-

  • EPF(Employee Provident Fund)
  • EPS(Employee Pension Scheme)
  • EDLI(Employee Deposite Linked Insurance Scheme)
Employee Employer
EPF EPF EPS
12% 3.67% 8.33%
10% 1.67% 8.33%

जब एक Employee अपनी Salary का 12% देता है तो वह पूरा 12% EPF में जाता है| और जब Employer अपना 12% Contribute करता है, तो 12% का 3.67% ही EPF में जाता है और 8.33% EPS में जाता है|

अगर किसी Company में Employee 20 से कम है| तो Employee का 10% ही काटना होता है और Employer भी 10% ही Contribute करता है|

धयान रहे Interest सिर्फ EPF में जमा पैसो का ही मिलता है|

EPF Drawback :-

एक Major Draw back ये है की एक बार अगर आप EPF का Member बन जाते हो उसके बाद आप पीछे हट नहीं सकते | मतलब ऐसा नहीं होगा की कल को आप Company को बोले मुझे अब PF नहीं कटवाना और वो काटना बंद कर दे |

एक बार आप Member बन गए हो, तो कटेगा ही |

PPF(Public Provident Fund)

ये Scheme भी सरकार की है| यह भी एक Retirement benefit Scheme है| इसे कोई भी ले सकता है बच्चे, बूढ़े, जवान सब | इसका Return सरकार हर तीन महीने में Change करती है| अभी 7.1% के आस पास है|

PPF Lock-in Period

PPF में 15 साल का Lock in Period है| मतलब आप जो भी पैसा Invest करोगे, वो 15 साल के बाद ही पूरा पैसा निकाल पाओगे |

इसमें तीन  Exceptions भी है :-

आप 5 साल के बाद भी पैसा निकल सकते हो, पर 50% ही मिलेगा |

अगर कोई बहुत बड़ी Emergency आ जाती है| तो आप अपना Account बंद कर के सारा पैसा निकाल सकते हो, पर 5 साल के बाद |

अगर आपके 2 साल पूरे हो चुके है Invest करते | तो जितने भी Amount जमा हुए होंगे उसका 25% तक का Loan ले सकते हो, जिस Bank में आपने आपने PF Account खोलवाया है|

क्या Lock in Period को बढ़ा सकते है??

हाँ | अगर आपके 15 साल पूरे हो चुके है पर आपको पैसो की ज़रूरत नहीं है| तो आप 5 साल के लिए Extent कर सकते हो | और इस Extended Period में आप अपना पैसा कभी भी निकाल सकते हो और कितना भी निकाल सकते हो, चाहो तो पूरा | पर, साल में एक ही बार | आप एक साल में बार बार पैसा नहीं निकल सकते | और Extend आप कितना बार भी कर सकते हो |

PPF Benefits

  • साल में 1.5 लाख तक का Investment बिल्कुल Tax Free है|
  • आपको जो Interest मिलेगा उसमे भी आपको कोई Interest नहीं देना होगा |
  • 15 साल बाद जब आप एक Lump Sump Amount निकालोगे, उसमे भी कोई Tax नहीं कटेगा |
  • Legal Immunity की – अगर आपमें कोई Legal Action हो गया, आपको Court को पैसे देने है| पर आपके पास नहीं है| ऐसे में Court आपकी सारी Property को जप्त कर सकता है, बेच सकता है| पर PPF में Invest किया हुआ पैसा को वह जप्त नहीं कर सकता |
  • Risk Zero है| क्यूंकि Government Scheme है और Returns Fix है|

Conditions :-

  • अगर आप एक साल में 1.5 लाख से ज़्यादा का Investment करते हो, तो Tax Benefit नहीं मिलेगा | Tax कटेगा |
  • Minimum आपको साल के 500 रूपए डालने होंगे | अगर आपने डालना बंद कर दिया, तो Interest मिलना बंद हो जाएगा |
  • Account बंद नहीं होगा |
  • आप हर महीने पैसे डाल सकते हो या पूरे साल की एक बार में भी |
  • Account खोलने की कोई Age Limit नहीं है|
  • Joint Account नहीं खुल सकता |
  • हर एक Individuals को अपना Account खुद खोलवाना होगा |
  • एक Individuals का एक ही PPF Account हो सकता है|
  • NRI इस Scheme में apply नहीं ले सकते |

PPF में Return कैसे बढ़ाय ??

PPF में Monthly Installment जमा करने की एक Cut-off Date होती है| मान लेते है 5 तारिक | अगर आप 5 तारिक के बाद अपना Installment भरते है, तो महीने की Last Date तक उस पैसे में कोई Interest नहीं मिलेगा | पर अगर आप 5 तारिक को या 5 तारिक से पहले अपना Monthly Installment भरते हो | तो आपको उस पैसा का भी Interest मिलेगा |

ये Interest बहुत कम होगा पर Long Term में ये छोटी Interest आपको एक बड़ा Value निकाल के देगी |

अगर आप Monthly अपना Installment Pay करते हो, तो धयान रहे Cut-off date से पहले कर दे |

PPF Account कैसे खोलते है?

Online या Offline आप किसी भी Bank में अपना Account खोल सकते है| Post Office से भी आप खोल सकते है|

कोई Heavy Document भी नहीं चाहिए होता है|

  • Aadhar Card, Voter id या Passport में से एक |
  • PAN Card.
  • Residential Address.
  • Photo

ELSS(Equity Linked Saving Scheme)

यह एक Mutual Fund है| जो की Section 80C के अंदर आता है|

Per Year 1.5 लाख तक की Investment में Tax Free है| पर ये Market से Linked होता है| अगर Market उप्पर गयी तो High Return मिलेगा और अगर नीचे गयी तो Loss भी हो सकता है|

EPF और PPF से ज़्यादा Return देने की Potential रखता है, पर Guarantee नहीं है| आपको Risk लेना होगा | अगर Market नीचे आई तो Loss भी आपको ही होगा |

Investment में जो आपको Interest मिलेगा उसमे भी आपको कोई Tax नहीं देना होगा |

पर जब आप अपना पैसा निकलोगे और अगर आपने 1 लाख से ज़्यादा का Profit किया है तो 10% Long Term Capital Gain Tax(LTCG) देने होंगे | बस यही एक Tax आपको देने पड़ते है|

इसका Lock in Period 3 साल का होता है|

ये है EPF, PPF और ELSS के Expected Return, Risk और Lock In Period.

Expected Return Risk Lock In Period
EPF 8-9% Zero Risk 5+ Year
PPF 7% Zero Risk 15 Year
ELSS 10-20% Depend on Market 3 Year

Life Insurance

Life Insurance भी Section 80C के अंदर आता है| तो 1.5 लाख तक का Investment में तो कोई Tax नहीं लगेगा | और Maturity में आपको जो पैसे मिलेंगे वो भी बिलकुल Tax Free होगा |

इस बात का धयान रहे की एक साल में 1.5 लाख तक का Investment में ही Tax benefit मिलेगा | ऐसा बिलकुल भी नहीं है की आप सभी Scheme में 1.5 लाख Invest कर सकते हो और आपको Tax नहीं देना होगा | एक साल में आप सिर्फ 1.5 लाख ही Invest कर कर सकते हो, जिसमे आपको Tax नहीं देने होंगे Section 80C के According.

मैंने बस आपको ये बताया है की आपके पास Investment करने के Multiple Option available है| आप जिसमे चाहो कर सकते हो |

Section 80C के जैसे ही Section 80D है जो Tax benefit देता है|

Section 80D :- इस Section के According आपको Health Insurance में Tax Benefit मिल पाता है| जिसकी limit है 50,000.

  • 50000 तक का Health Insurance Premium में आपको कोई भी Tax नहीं लगेगा |

Saving Account

अगर आपने अपने पैसे Normal Saving Account में जमा कर रखा है, तो Bank की तरफ से 3 से 4% Interest मिलती है| 10,000 तक का Interest तक आपको Tax नहीं लगता है|

ये Section 80TTA कहता है|

तो ये थे कुछ Legal तरीके Tax Save करने की, जिसकी इज़ाज़त खुद Income Tax department देती है| Proper Constitution में लिखी गयी है ये सारी बातें, Tax Save करने की | 

HUF (Hindu Undivided family)

Save your Tax – READ MORE


Some Post Related to this Article :-

>> Share Market, Stock Market या Equity Market क्या है ?

>> Section 87a of income tax act- 12500 तक का Tax Rebate.

Spread the love

5 thoughts on “How to Save Tax in India | Tax Saving Investment in Hindi”

Leave a Comment